चीन सीमा विवाद के विषय में शिवसेना और कांग्रेस के बीच तालमेल नहीं हैं ,शिव सेना सरकार की प्रशंसा कर रहे है तो दूसरी तरफ कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने मोदी सरकार पर कई सवाल खड़े किये है , शुक्रवार को नरेंद्र मोदी की अधिकता में मीटिंग राखी गयी थी , इस सर्वदलीय मीटिंग में बीस राजनैतिक डालो के नीटोने ने हिस्सा लिया था सभी ने चीन सीमा विवाद के विषय में अपने अपने राय दिए , शिवसेना प्रेसिडेंट उद्धव ठाकरे ने सीमा विवाद पर सरकार की प्रशंसा किया तो वहीँ कोंग्रेस अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गाँधी ने सरकार से कई सवाल पूछे

Shiv Sena praised government on China border dispute, Congress interim president Sonia Gandhi raised many questions!
images sourc – click hera

अभी हालही में चीन द्वारा किये गए हमले से भारत के 20 जवान शहीद हो गये इसके बाद देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में शुक्रवार को बैठक हुई , प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता वाली इस सर्वदलीय बैठक में 20 राजनीतिक दलों के नेताओं ने द्वारा हिस्सा लिया गया था , भारत और चीन के बीच सीमा विवाद काफी हद तक बढ़ गया है , भारत अब चीन से कई संबंधो को तोड़ने लगा है और साथ ही साथ देशी में चीनी उत्पादों के बजाय स्वदेशी उत्पादों पर जोर दिया जा रहा है , इससे साफ़ साफ़ यह साबित होने लगा है की भारत अब चीन से काफी खफा है , क्योंकि चीनी सेना ने कायरता दिखाते हुए भारतीय जवानो पर हमला कर दिया जिसकी वजह से 20 जवान हमले में शहीद हो गए ! फ़िलहाल एक और प्रॉब्लम सामने आ रही है भारत चीन सीमा विवाद पर शिवसेना , कांग्रेस और एनसीपी तीनो की विचार आपस में बिलकुल भी मेल नहीं खा रहे हैं , अर्थात इनके विचार काफी अलग अलग हैं !
शिवसेना एक तरफ से मोदी की प्रशंशा कर रही है तो दूसरी तरफ कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गाँधी ने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कई सवाल सामने रख रही है !
आयोजित सर्वदलीय बैठक में शिवसेना के प्रेजिडेंट उद्धव ठाकरे ने कहा की हम सभी देश वाशी एक हैं , हम प्रधानमंत्री , देश की सेना और उनकी फैमिली से साथ खड़े हैं , शिव सेना ने यह भी कहा की भारत शांति चाहता है तो इसका मतलब यह नहीं है की भारत कमजोर है ,हमारा भारत मजबूर नहीं है , भारत मजबूत हैं !

Shiv Sena praised government on China border dispute, Congress interim president Sonia Gandhi raised many questions!
images source – click here

भारत सरकार पर कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गाँधी ने निशाना साधते हुए कई सवाल किये है सोनिया गाँधी ने कहा की सरकार को यह साफ़ कहने की जरूरत है की चीन की सेना ने सीमा पर किस तरह से घुसपैठ को अंजाम दिया , क्या सरकार के पास सेटल लाइट की तस्वीरें नहीं हैं , सर्कार को कब यह पता चला की घुसपैठ हुआ , सोनिया गांधी ने प्रधान मंत्री नरेंद्रमोदी को कहा की उन्हें राजनैतिक रूप से वार्तालाप करने की कोसिस करनी चाहिए थी , सोनिया ने आगे कहा की सर्कार को नियमित तौर पर राजनैतिक पार्टियों को जानकारी देनी चाहिए , सर्कार को भारत चीन सीमा विवाद के विषय में और अधिक जानकारी सामने रखने की जरूरत है !
आयोजित मीटिंग में इस बात पर भी जोर दिया गया की सीमा पर किस पक्ष के सैनिको ने पहले हाथ उठाये इसका निर्णय अंतरराष्ट्रीय समझौतों से होता है , शरद पवार ने यह भी कहा की हमें इस तरह के संवेदनशील मामलो की सम्मान करना चाहिए !
सिक्किम के मुख्यमंत्री प्रेम सिंह तमांग ने भी हमारे प्रधनमंत्री नरेंद्र मोदी पर भरोषा व्यक्त किया उन्होंने अपने बयान में कहा की हमें प्रधानमंत्री पर पूरी तरह से भरोसा है. बीते सालो में जब भी रास्ट्री सुरक्षा का विषय सामने आया तब प्रधानमंत्री ने ऐतिहासिक निर्णय लिए हैं !

शुक्रवार को आयोजित सर्वदलीय बैठक में तेलंगाना के सीएम केसीआर ने भी नरेंद्र मोदी के निर्णय की तारीफ भी की उन्होंने कहा की कश्मीर विवाद जो की सालो से चलता आ रहा था , इसपर नरेंद्र मोदी की स्पस्टता से चीन काफी नाराज हो गया है , भारत की
आत्मनिर्भरता की वजह से चीन में अशंतोष साफ़ साफ़ दिखाई दे रहा था !

Shiv Sena praised government on China border dispute, Congress interim president Sonia Gandhi raised many questions!
image source- click here

मीटिंग में उपस्थित सीपीआई नेता डी राजा ने कहा की हमें गठबंधन में खींचने के लिए अमेरिकी प्रयासों की विरोध करने की जरूरत है , वही सीताराम येचुरी द्वारा मीटिंग में पंचशील के सिद्धांतो पर जोर दिया गया !
बैठक में पिनाकी मिश्रा जो की बीजू जनता दल के नीता है उन्होंने ने कहा की हम पूर्ण रूप से बिना किसी शर्त के भारत सरकार के निर्णय के साथ हैं , हम सरकार के साथ खड़े हैं !

बसपा की सुप्रीमो मायावती ने भी कहा की वर्तमान का समय राजनीति करने का समय नहीं है , नरेंद्र मोदी इस विषय पर जो भी फैसला लेते हैं हम उसपर उनके साथ खड़े हैं , हम उनके साथ है , मायावती ने और कहा की हमे व्यापर और निवेश के विषय में चीन से मोर्च लेने की जरूरत है !
डीएमके की तरफ से स्टालिन ने भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा वर्तमान में लिए गए निर्णयों का सम्मान किया उन्होंने यह कहा की हम सभी देश भक्ति के विषय में एकजुट हैं , देशभक्ति में सभी एक हैं !
NPP प्रमुख मीटिंग में कोनराड संगमा ने कहा की अभी सीमा पर इंफ़्रा का काम जारी रहना चाहिए , इंफ़्रा का कार्य रुकना नहीं चाहिए , कोनरॉड संगमा ने चीन म्यांमार और बांग्लादेश सीमा के विषय में कहा की चीन म्यांमार और बांग्लादेश सीमा पर होने वाला टकराव काफी चिंताजनक है , चिंता का विषय बना हुआ है !

After this read also this latest news :- Technology news :- भारतीय बाजार में लांच हुआ Oppo Find X2 Pro और Oppo Find X2 जाने स्पेसिफिकेशन्स

After this read also this news :- फिट रहने के कुछ महत्वपूर्ण तरीके हिंदी में

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here